Written by 6:33 am Covid19 Views: 0

नेपाल के कोविड कार्यबल की सार्वजनिक स्थानों पर टीकाकरण कार्ड अनिवार्य बनाने की सिफारिश

नेपाल के कोविड कार्यबल की सार्वजनिक स्थानों पर टीकाकरण कार्ड अनिवार्य बनाने की सिफारिश

नेपाल के कोविड-19 कार्यबल ने कोरोना वायरस संक्रमण में वृद्धि पर काबू पाने के लिए रविवार को सभाओं पर प्रतिबंध, स्कूलों को बंद करने एवं सार्वजनिक स्थानों पर टीकाकरण कार्ड अनिवार्य करने जैसी सिफारिशें कीं. स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, नेपाल में रविवार को कोविड-19 के 1,167 नए मामले सामने आए और 224 लोग ठीक हुए, वहीं दो मरीजों की मौत हो गयी. नेपाल में कोरोना वायरस से संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 9,30,004 हो गए. देश में अभी 6,848 मरीजों का इलाज चल रहा है. नेपाल में अब तक इस बीमारी के कारण 11,604 मरीजों की मौत हो चुकी है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने ओमिक्रॉन स्वरूप के 27 मामलों की पुष्टि की है.

देश में महामारी की स्थिति से निपटने के लिए गठित सरकारी निकाय कोविड संकट प्रबंधन समन्वय केंद्र (सीसीएमसीसी) ने रविवार को कई सिफारिशें जारी की जिनमें 25 से अधिक लोगों के एकत्र होने पर प्रतिबंध शामिल है. सीसीएमसीसी ने सरकार से 29 जनवरी तक स्कूलों को बंद करने की भी सिफारिश की है. इसने छात्रों से टीकाकरण करने का भी आग्रह किया क्योंकि 12 से 17 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए टीकाकरण अभियान रविवार को काठमांडू में शुरू हो गया.

इसने गृह मंत्रालय से 17 जनवरी से लोगों को सार्वजनिक सेवाएं प्राप्त करने के लिए टीकाकरण कार्ड अनिवार्य बनाने को कहा. सिफारिशों में कहा गया है, “कार्यालयों, होटलों, रेस्तरां, सिनेमा हॉल, स्टेडियम, हवाई अड्डों और पार्कों जैसे सार्वजनिक स्थानों में प्रवेश करने के लिए लोगों को अपना टीकाकरण कार्ड पेश करना होगा.” कार्यबल ने राजनीतिक दलों से बड़ी सभाओं के आयोजन से परहेज करने का भी आग्रह किया है. कार्यबल की सभी सिफारिशें संबंधित मंत्रालयों की मंजूरी के बाद ही लागू होंगी.

(Visited 1 times, 1 visits today)
Close