Written by 11:31 am Coronavirus News Views: 2

ब्रिटेन में 12 साल से कम उम्र के बच्चों को भी लगेगी Covid वैक्सीन, रेगुलेटरी एजेंसी ने दी मंजूरी

अधिकतर को थी गंभीर बीमारी, 64% ने नहीं ली थी वैक्सीन : दिल्ली में 3 दिनों में कोरोना से हुई मौतों के आंकड़े

कोरोना वायरस (Coronavirus) के नए और अधिक संक्रामक वेरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) के सामने आने के बाद ब्रिटेन में हालात बिगड़ते जा रहे हैं. ओमिक्रॉन के मामलों में तेज वृद्धि के बीच ब्रिटेन में रोजाना आने वाले नए मामलों की संख्या 1 लाख के पार निकल गई है. ब्रिटेन में पहली बार कोरोना के दैनिक मामले एक लाख के पार गए हैं. इस बीच, ब्रिटिश नियामकों ने 5 से 11 साल के बच्चों के टीकाकरण के लिए फाइजर (Pfizer) की कोविड-19 वैक्सीन के इस्तेमाल को हरी झंडी दे दी है.

ब्रिटेन की ओर से यह फैसला ऐसे समय लिया गया है कि जब वहां की सरकार ने संक्रमित लोगों के लिए जरूरी आइसोलेशन की अवधि घटा दी है.

ब्रिटेन की मेडिसिन एंड हेल्थकेयर प्रोडेक्ट्स रेग्युलेटरी एजेंसी (MHRA) ने कहा कि उसने फाइजर-बायोएनटेक की वैक्सीन को 5 से 11 साल के बच्चों के लिए “सुरक्षित और प्रभावी” पाए जाने के बाद इसके इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है.

ब्रिटिश नियामक एमएचआरए की मुख्य कार्यकारी अधिकारी जून राइन ने कहा कि इस आयुवर्ग के बच्चों के लिए जोखिम को कम करने के समर्थन में मजबूत तथ्य मिले हैं.”

ओमिक्रॉन के बढ़ते प्रभाव को कम करने के लिए ब्रिटेन वैक्सीन की बूस्टर डोज के अभियान को तेज करने की तैयारी कर रहा है.

ब्रिटेन ने बुधवार को वैक्सीन की तीसरी डोज की 3 करोड़ खुराक लगाने का आंकड़ा पार कर लिया. सरकार का लक्ष्य इस साल के अंत तक सभी व्यस्क लोगों को वैक्सीन की अतिरिक्त डोज देने का है.

बता दें कि ब्रिटेन ने कोरोना से संक्रमित लोगों के लिए सेल्फ आइसोलेशन की अवधि 10 दिन से घटाकर सात दिन कर दी है. बशर्ते वे पृथकवास शुरू होने के 6 और 7वें दिन की दो ‘लेटरल फ्लो टेस्ट’ (एलएफटी) में संक्रमित नहीं पाये जाने की रिपोर्ट प्रस्तुत करनी होगी.

 

ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री साजिद जाविद ने बताया कि नियमों में यह बदलाव ब्रिटेन स्वास्थ्य सुरक्षा एजेंसी (यूकेएचएसए) से विचार विमर्श के बाद किया गया है और इसका लक्ष्य अग्रिम मोर्चे की सेवाओं और अन्य कारोबार में आने वाली बाधाओं को कम करना है.

ब्रिटेन की ओर से यह फैसला ऐसे समय लिया गया है कि जब वहां की सरकार ने संक्रमित लोगों के लिए जरूरी आइसोलेशन की अवधि घटा दी है.

ब्रिटेन की मेडिसिन एंड हेल्थकेयर प्रोडेक्ट्स रेग्युलेटरी एजेंसी (MHRA) ने कहा कि उसने फाइजर-बायोएनटेक की वैक्सीन को 5 से 11 साल के बच्चों के लिए “सुरक्षित और प्रभावी” पाए जाने के बाद इसके इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है.

ब्रिटिश नियामक एमएचआरए की मुख्य कार्यकारी अधिकारी जून राइन ने कहा कि इस आयुवर्ग के बच्चों के लिए जोखिम को कम करने के समर्थन में मजबूत तथ्य मिले हैं.”

ओमिक्रॉन के बढ़ते प्रभाव को कम करने के लिए ब्रिटेन वैक्सीन की बूस्टर डोज के अभियान को तेज करने की तैयारी कर रहा है.

ब्रिटेन ने बुधवार को वैक्सीन की तीसरी डोज की 3 करोड़ खुराक लगाने का आंकड़ा पार कर लिया. सरकार का लक्ष्य इस साल के अंत तक सभी व्यस्क लोगों को वैक्सीन की अतिरिक्त डोज देने का है.

बता दें कि ब्रिटेन ने कोरोना से संक्रमित लोगों के लिए सेल्फ आइसोलेशन की अवधि 10 दिन से घटाकर सात दिन कर दी है. बशर्ते वे पृथकवास शुरू होने के 6 और 7वें दिन की दो ‘लेटरल फ्लो टेस्ट’ (एलएफटी) में संक्रमित नहीं पाये जाने की रिपोर्ट प्रस्तुत करनी होगी.

ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री साजिद जाविद ने बताया कि नियमों में यह बदलाव ब्रिटेन स्वास्थ्य सुरक्षा एजेंसी (यूकेएचएसए) से विचार विमर्श के बाद किया गया है और इसका लक्ष्य अग्रिम मोर्चे की सेवाओं और अन्य कारोबार में आने वाली बाधाओं को कम करना है.

(Visited 2 times, 1 visits today)
Close